You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

किसान की उन्नती राज्य की प्रगति

भारत संरचनात्मक दृष्टि से गांवों का देश है जहां प्रमुख रूप से कृषि ...

See details Hide details

भारत संरचनात्मक दृष्टि से गांवों का देश है जहां प्रमुख रूप से कृषि कार्य किया जाता है। इसलिए भारत को कृषि प्रधान देश की संबा प्राप्त है। देश के लगभग 70 प्रतिशत जनसंख्या कृषि एवं संबंधित कार्यों से अपना जीविकोपार्जन करती है। देश एवं प्रदेश की आर्थिक उन्नती में किसानों का महत्वपूर्ण योगदान है। हमारे किसान देश एवं प्रदेश की रीढ़ की हड्डी हैं। यह हमारे किसानों की मेहनत एवं समर्पण का ही परिणाम है कि आज हमारा देश विभिन्न कृषि उत्पादों में न केवल अत्मनिर्भर एवं आत्मसंपन्न है बल्कि निर्यातक भी है। यह भी सर्वविदित है कि छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है। वर्तमान में छ.ग. राज्य न केवल धान उत्पादन में अग्रणी है वरन अन्य फसलों जैसे विभिन्न दलहनी-तिलहनी फसलों वाणिज्यिक फसलों, सब्जी एवं फल उत्पादन के क्षेत्र में भी निरंतर बेहतर प्रदर्शन कर रहा है।

छ.ग. राज्य को नई ऊँचाईयों तक पहुंचाने वाले मेहनत किसानों के आर्थिक एवं समाजिक उत्थान के लिए प्रदेश की सरकार हमेशा से ही प्रयासरत रही है। प्रदेश के किसानों को उनके उत्पादों का उचित मूल्य दिलाने तथा किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में भी राज्य सरकार कार्यरत है। राज्य सरकार की मंशानुरूप प्रदेश में कृषि एवं कृषकों के भविष्य को बेहतर बनाने तथा उनके आर्थिक एवं समाजिक उत्थान के लिए अपने बहुमूल्य सुझाव/विचार Chhattisgarh.mygov.in पर साझा करें।

All Comments
#ChhattisgarhMyGov
Reset
18 Record(s) Found

rahuldubey 4 days 14 hours ago

in party bhandara and bhoj me bhut sa aanag waste ho jata hai ise ham kisan ki bajati bhi bol sakte hai kyo ki jo kisan dhup me pacina bha ka hamare liya aanaj lata hai ausa ham aa sa ni sa fake sakte hai lekin auga nahi sakte yeseliya annaj barbad nahi karna chaheya ause kese jarurat mand ko da da na hai jase gay kutta ya fer garib
eseliye
jai javan jai kisan
jai hind
jai bharat

Rakesh Kumar Sahu_5 1 week 4 days ago

अब के इस फैशन के जमाने में बड़े—बड़े शादी व पार्टियों में हमारे भगवान स्वरूप किसानो के द्वारा अपने कड़ी मेहनत से उगाए गए अनाज की बरबादी की जाती है जिसे रोकने के लिए उचित उपाय करना चाहिए क्योकि यह अनाज सभी व्यक्तियों के लिए आवश्यक है।

छत्तीसगढ़ की पहचान
लहलहाती धानों की बाली
और
खुशहाल किसान

जय जवान,जय किसान

Brajendrakumar Singh 1 week 6 days ago

Water for second crop in Dist. Janjgir-champa ( chhattisgarh )- Water is available for second crop of paddy in Hasadeo canal but water resources dept. give for crop in 5 years once when the election has on and need of votes of farmer and there family member . Now election is in Chhattisgarh so give water for crop.

Mukesh kumar 1 week 6 days ago

Kisano ka hi mai beta hu ki kisano kitane mehanat karate hai dhup me bhi mehanat kar kar ke phasal ugate hai tab unahe bhojan milate a