You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

किसान की उन्नती राज्य की प्रगति

Start Date: 06-10-2018
अंतिम तिथि: 01-12-2018

भारत संरचनात्मक दृष्टि से गांवों का देश है जहां प्रमुख रूप से कृषि ...

विवरण देखें जानकारी छिपाएँ

भारत संरचनात्मक दृष्टि से गांवों का देश है जहां प्रमुख रूप से कृषि कार्य किया जाता है। इसलिए भारत को कृषि प्रधान देश की संबा प्राप्त है। देश के लगभग 70 प्रतिशत जनसंख्या कृषि एवं संबंधित कार्यों से अपना जीविकोपार्जन करती है। देश एवं प्रदेश की आर्थिक उन्नती में किसानों का महत्वपूर्ण योगदान है। हमारे किसान देश एवं प्रदेश की रीढ़ की हड्डी हैं। यह हमारे किसानों की मेहनत एवं समर्पण का ही परिणाम है कि आज हमारा देश विभिन्न कृषि उत्पादों में न केवल अत्मनिर्भर एवं आत्मसंपन्न है बल्कि निर्यातक भी है। यह भी सर्वविदित है कि छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है। वर्तमान में छ.ग. राज्य न केवल धान उत्पादन में अग्रणी है वरन अन्य फसलों जैसे विभिन्न दलहनी-तिलहनी फसलों वाणिज्यिक फसलों, सब्जी एवं फल उत्पादन के क्षेत्र में भी निरंतर बेहतर प्रदर्शन कर रहा है।

छ.ग. राज्य को नई ऊँचाईयों तक पहुंचाने वाले मेहनत किसानों के आर्थिक एवं समाजिक उत्थान के लिए प्रदेश की सरकार हमेशा से ही प्रयासरत रही है। प्रदेश के किसानों को उनके उत्पादों का उचित मूल्य दिलाने तथा किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में भी राज्य सरकार कार्यरत है। राज्य सरकार की मंशानुरूप प्रदेश में कृषि एवं कृषकों के भविष्य को बेहतर बनाने तथा उनके आर्थिक एवं समाजिक उत्थान के लिए अपने बहुमूल्य सुझाव/विचार Chhattisgarh.mygov.in पर साझा करें।

सभी टिप्पणियां देखें
#ChhattisgarhMyGov
Reset
1 रिकॉर्ड मिला है
11470

pitambar sahu 2 years 1 week पहले

छत्तीसगढ़ के अधिकांश लोग कृषि कार्य पर निर्भर है और यह के लोगो का आय का मुख्य स्रोत कृषि है यह के कृषि कार्य हेतु लोग आज भी कृषि के लिए वर्षा पर आधारित है कुछ ही जगह बांध या एनीकेट के द्वारा सीचाय के व्यवस्था है किन्तु आज शहरी एरिया के लोगो को सरकार द्वारा जबरन अधिकृत किया जा रहा है और उसमे रोड भवन आदि का निर्माण किया जा रहा है जिसके कारन कृषि एरिया में भारी कटौती हो रहा है जिसके कारन लोगो के पास अपने जीवकोपार्जन के लिए अनाज भंडारण करने में असमर्ध है वही मशीनी करन के कारन बेरोजगार बड रहा है